दोहा-

दोहा-

Posted on Updated on

बहुत बड़े से कीजिये कभी न कोई आस.
सागर से बुझती नहीं कभी किसी की प्यास.
डाॅ. कमलेश द्विवेदी
मो.9415474674